Tuesday, September 10, 2019

10 steps of water purification

10 steps of water purification

दुनिआ मे पानी के बिना जीवन सम्भब नहीं है , आज हम आपको पानी को शुद्ध करने के घरेलु उपाय बतायेगे। 


10 steps of water purification



दुनिआ में पानी के बिना जीवन संभव नहीं है तो यह बात गलत नहीं होगी। प्यास बुझाने के आलावा ,खाना बनाने जैसे अन्य काम पानी के बिना नहीं हो सकते। कई लोग पानी को साफ करना जरुरी नहीं समझते। लेकिन आपकी यही सोच आपको और आपके परिवार को अन्य बीमारियो की तरफ ले जा सकती है। नहाने के पानी से लेकर पीने के पानी तक की शुद्धता मायने रखती है। अगर पानी शुद्ध ना हो तो त्वचा से जुडी अन्य बीमारियो को न्योता मिलता है। अगर आकड़ो के मुताबिक पिने के पानी मे 2100 विषेल तत्व मौजूद होते है।

पानी को शुद्ध करने के उपाए 1
पानी को उबालना : पानी को साफ़ और पूरी तरह से शुद्ध बनाने के लिए कम से कम उसे 20 मिनट उबालना जरुरी है। पानी को उबालकर साफ़ कंटेनर मे रखना चाहिए। 

फिटकरी द्वारा पानी साफ करना : फिटकरी के एक छोटे से टुकड़े को अशुद्ध पानी मई डालकर एक से दो घंटे के लिए ढक दे। दो घंटे बाद पानी के निचे जमी हुई गदगी को छान ले। बचे हुए साफ़ पानी को इस्तेमाल कर ले।     
क्लोरीन की गोलिया द्वारा पानी साफ करना    क्लोरीन की गोलियों को पानी के बर्तन मे डालकर कुछ देर तक पानी को हिलाये ताकि गोलिया पानी मे अच्छी तरह से घुल जाये ऐसा आप 4 से 5 घंटे तक पानी एकदम पूरी तरह साफ़ होगा। क्लोरीन की 20 mili gram लगभग 5 litters पानी को साफ़ करता है।

तुलसी का इस्तेमाल  पानी में तुलसी की हरी पत्तिया डाले और 5 से 10 मिनट तक रखे पानी शुद्ध और साफ़ हो जायेगा। इसके इस्तेमाल से पानी में अनोखी शक्ति भी भर जाती है तुलसी का पानी कैंसर जैसे रोंगो से लड़ने में मदत करता है।

नीबू के रस से पानी साफ़ करे  रिसर्च में पाया गया है की नीबू के रस से पानी के वैक्टेरिआ सोलर डिसइफेक्शन तकनीक से जायदा बेहतर तरीके से पानी साफ़ होता है। सूर्य की किरणों से पानी के वेक्टेरिया 6 घंटे में नष्ट होते है जबकि नीबू के रस से 30 मिनट में बेक्टेरिआ हो जाते है। 

केले के छिलके से पानी शुद्ध करना   केला खाने के बाद छिलका फैके नहीं क्योकि ये पानी मे घुले शीशा और ताँबा जैसे टॉक्सिक मैटल्स को ख़तम करने में सक्षम होता है। केले के एक छिलके को आप 11 बार तक इसका उपयोग कर सकते है।

7   कैडल  वाटर फ़िल्टर  कैंडल वाटर फ़िल्टर के माध्यम से पानी को शुद्ध किया जा सकता है समय समय पर कैंडल बदलने की जरुरत होती है ताकि पानी बेहतर तरीके से साफ़ हो सके।

 आरओ सिस्टम   आरओ सिस्टम द्वारा साफ़ पानी मे वेक्टेरिआ होने की सम्भाबना बहुत कम हो जाती है। आरओ सिस्टम 220 से 240 पीपीएम तक युक्त पानी को स्वच्छ कर 25 पीपीएम तक ले आता है। यह गदगी ,धूल,वेक्टेरिया आदि से पानी को मुक्त कर शुद्ध व मीठा बनाता है।

धनिये की पतिया  जार में पानी लेकर उसमे धनिया की पतिया डालें। उसे अछि तरह हिलाये अब इन पतियों को तली में बैठ जाने दे ऊपर की सतह वाला पानी इस्तेमाल कर  ले कई रिसर्च में पता चला है की धनिया की पतिया अपने साथ लेड और निकल जैसे धातु को पानी के तल में जमा देती है।

10  युवी रेडिएशन सिस्टम  पानी मे मौजूद वायरस और वेक्टेरिया के डीएनए अव्यवस्थित हो जाता है साथ ही हानिकारक वेक्टेरिया भी मर जाते है। युवी प्यूरिफायर्स तीन चार प्यूरिफिकेशन चरणों मे आते है। जिनमे सेडिमेट ,फ़िल्टर यानी प्री फिल्टर्स प्रक्रिया और सक्रिय कार्बन कार्टरेज प्रमुख है यह पानी से कार्ड कार्बनिक कण  घुलन शील सॉलिड ,वेक्टेरिया ,विषाणु और भारी तत्व को बाहर करता है।




























































1 comment: